ट्रेडिंग लेन-देन नीति। भाग 2

01 नवंबर 2017 से प्रभावी
15 अप्रैल 2019 को अपडेट किया गया

1. सामान्य प्रावधान

1.1. यह ट्रेडिंग नीति (इसे बाद में यहाँ "नीति" कहा गया है) उन प्रक्रियाओं और परिस्थितियों को निर्धारित करती है जिनके अंतर्गत कंपनी ग्राहक के साथ ट्रेडिंग लेन-देनों को निष्पादित करती है।
1.2. यह नीति ट्रेड खोलने और बंद करने के लिए ऑर्डरों के संसाधन और निष्पादन की प्रक्रिया को परिभाषित करती है।
1.3. कंपनी ट्रेडिंग संचालनों को केवल नीति के अनुसार संचालित करने की ज़िम्मेदारी लेती है।
1.4. ग्राहक स्वीकार करता है कि कोटेशन-फ़ीड के बारे में जानकारी का एकमात्र विश्वसनीय स्रोत केवल कंपनी सर्वर है। इसके अतिरिक्त कंपनी के पास, अपने विवेकानुसार, कंपनी सर्वर पर कोटेशन फ़ीड के सृजन के लिए जानकारी के किसी भी स्रोत का इस्तेमाल करने का अधिकार है, जिसमें जानकारी के एक्सचेंज-ट्रेड, ओवर-द-काउंटर, और अन्य भी शामिल हैं किंतु ये केवल इन तक सीमित नहीं हैं। कोटेशन फ़ीड की कोई भी जानकारी कंपनी सर्वर पर मिली जानकारी से भिन्न होने पर ट्रेडिंग लेन-देनों को रद्द करने, समाप्त करने, या संशोधित करने का पर्याप्त आधार नहीं होती। ट्रेडिंग टर्मिनल के कोटेशनों को कोटेशन-फ़ीड की जानकारी का विश्वसनीय स्रोत नहीं माना जा सकता क्योंकि, यदि ग्राहक के ट्रेडिंग टर्मिनल और कंपनी सर्वर के मध्य कनेक्शन अस्थिर होता है तो कोटेशन-फ़ीड के कुछ कोटेशन ट्रेडिंग टर्मिनल पर प्रदर्शित नहीं किए जा सकते। ट्रेडिंग टर्मिनल पर दिखाए जाने वाले ग्राफ़ संकेतात्मक होते हैं। कंपनी गारंटी नहीं देती कि ग्राहक के विशिष्ट अनुरोध या ऑर्डर करते समय ट्रेड को ट्रेडिंग टर्मिनल के ग्राफ़ पर इंगित मूल्य पर किया जाएगा। ट्रेडिंग टर्मिनल पर सूचीबद्ध एक असेट के मूल्य की गणना निम्नलिखित ढंग से की जाती है: (ask+bid)/2.
1.5. यदि ग्राहक के ऑर्डर का निष्पादन करने के लिए एक नॉन-मार्केट कोटेशन का इस्तेमाल किया जाता है, जहां "नॉन-मार्केट कोटेशन" का तात्पर्य ट्रेडिंग टर्मिनल पर मौजूद उस मूल्य से है जो ग्राहक का ऑर्डर निष्पादित किए जाते समय बाजार के मूल्य से मेल नहीं खाता, तो कंपनी के पास ऐसे लेन-देन के वित्तीय परिणाम को रद्द करने का अधिकार सुरक्षित है।
1.6. ग्राहक के पास केवल ग्राहक खाते में मौजूद राशि को खर्च करके ट्रेड करने का अधिकार है।
1.6.1. यदि उपलब्ध राशि एक ट्रेड करने के लिए पर्याप्त है, तो ट्रेड किया जाएगा।
1.6.2. यदि उपलब्ध राशि एक ट्रेड करने के लिए पर्याप्त नहीं है, तो ट्रेड नहीं किया जाएगा।
1.7. कंपनी सर्वर के डेटाबेस में तदनुरूप अभिलेख उत्पन्न होने के बाद, ग्राहक के किसी ट्रेड को करने या पूरा होने से पहले बंद करने का ऑर्डर पूरा माना जाता है, और ट्रेड को किया गया या, तदनुसार, बंद माना जाता है। प्रत्येक ट्रेड को कंपनी द्वारा तय किए गए नियमों के आधार पर एक पहचान कोड दिया जाता है। उपरोक्त ऑर्डरों का निष्पादन कंपनी के सर्वर पर उस समय मौजूद नवीनतम कोटेशन मूल्यों के आधार पर किया जाता है जब कंपनी को संबंधित ऑर्डर प्राप्त होते हैं।
1.8. ट्रेड करते समय, ग्राहक के लिए निम्नलिखित प्रतिबंधित हैं:
1.8.1. कंपनी की सेवाओं और/या सॉफ़्टवेयर का इस्तेमाल ग्राहक के स्थान वाले देश के कानूनों के अंतर्गत गैर-कानूनी या धोखाधड़ीपूर्ण मानी जाने वाली गतिविधि के लिए, या गैर-कानूनी या धोखाधड़ीपूर्ण लेन-देनों के लिए करना (मनी लॉन्डरिंग सहित)।
1.8.2. कंपनी के अन्य ग्राहकों के साथ मिलकर ऐसे कार्य करना जिनका उद्देश्य कंपनी को नुकसान (नुकसान) पहुंचाना है, और ऐसे कार्यों से वित्तीय लाभ पाने के लिए कंपनी के साथ ट्रेड (लेन-देन) करते समय अन्य अनुचित और बेईमानीपूर्ण तरीकों और माध्यमों का इस्तेमाल करना।
1.9. कंपनी के पास किसी भी समय निम्नलिखित ट्रेडिंग परिस्थितियों के संदर्भ में ग्राहक पर निम्नलिखित प्रतिबंध लगाने का अधिकार सुरक्षित है:
1.9.1. प्रत्येक असेट के लिए न्यूनतम और अधिकतम ट्रेड राशि पर सीमाएँ।
1.9.2. कंपनी द्वारा तय एक दी गई समयावधि में (कंपनी द्वारा तय किए गए समयांतराल में) ग्राहक द्वारा किसी विशिष्ट असेट पर किए गए ट्रेड्स की कुल संख्या/ट्रेड राशि पर और/या ग्राहक द्वारा किए गए ट्रेडों की संख्या/कुल राशि पर सीमाएँ।
1.9.3. ग्राहक द्वारा एक साथ खोले गए ट्रेडों की कुल ट्रेड राशि पर सीमाएँ, सामूहिक रूप से और प्रत्येक बुनियादी असेट के लिए।
1.9.4. कंपनी के विवेकानुसार किसी ट्रेडिंग शर्तों पर अन्य प्रतिबंध।

2. संदेश

2.1. अनुरोधों, पुष्टिकरणों, रिपोर्टों, और अन्य के लिए, ग्राहक और कंपनी संदेशों के माध्यम से संचार करेंगे। ग्राहक द्वारा संदेश की उत्पत्ति, प्रेषण, और ग्राहक को संदेश की प्राप्ति सहित, कंपनी और ग्राहक के मध्य संचार केवल ट्रेडिंग टर्मिनल के माध्यम से किया जाएगा।
2.2. कंपनी को ट्रेडिंग टर्मिनल के माध्यम से भेजे गए और ग्राहक के उपयोगकर्ता नाम और पासवर्ड द्वारा अधिकृत किए गए सभी संदेशों को ग्राहक द्वारा भेजा गया माना जाता है।
2.3. अनुरोधों और ऑर्डरों के लिए संसाधन का समय ग्राहक के ट्रेडिंग टर्मिनल और कंपनी सर्वर के मध्य कनेक्शन की गुणवत्ता पर, और असेट की मौजूदा बाज़ार परिस्थितियों पर निर्भर करता है। सामान्य बाज़ार परिस्थितियों में, ग्राहक के अनुरोध या ऑर्डर को संसाधित करने का समय आम तौर पर 0-5 सेकेंड होता है। सामान्य से अन्य बाज़ार परिस्थितियों में, ग्राहक के अनुरोधों और ऑर्डरों को संसाधित करने का समय कंपनी द्वारा बढ़ाया जा सकता है।
2.4. निम्नलिखित स्थितियों में, कंपनी का सर्वर ग्राहक के अनुरोध और/या ऑर्डर को अस्वीकार कर सकता है:
यदि बाज़ार या ट्रेडिंग सत्र खुलने पर ट्रेडिंग टर्मिनल पर पहला कोटेशन प्रदर्शित होने से पहले ग्राहक एक अनुरोध भेजता है।
यदि ग्राहक के पास एक नई पोज़ीशन खोलने के लिए पर्याप्त उपलब्ध राशि नहीं है।
असामान्य बाज़ार परिस्थितियों में।
अन्य मामलों में कंपनी अपने विवेकानुसार निर्णय ले सकती है।

3. ट्रेड करना

3.1. एक ट्रेड तब किया जाता है जब ग्राहक और कंपनी ट्रेड की आवश्यक शर्तों पर सहमत होते हैं। यह समझौता संदेशों के आदान-प्रदान से होता है, जैसे ट्रेड करने के अनुरोध (ऑर्डर) और ट्रेड के पुष्टिकरण। नीति के निम्नलिखित अनुभाग ट्रेड की आवश्यक शर्तों पर सहमत होने की प्रक्रिया का वर्णन करते हैं।
3.2. एक ट्रेड को करने से पहले, ग्राहक ट्रेडिंग लेन-देन (ट्रेड) की निम्नलिखित आवश्यक शर्तों का चयन करता है:
बुनियादी असेट
मूल्य परिवर्तन की दिशा
ट्रेड राशि
मल्टीप्लायर
अन्य मानदंड और शर्तें, यदि ट्रेड करने के लिए ऐसे मानदंडों को स्वीकार करना बाध्यकारी है।
3.3. उपरोक्त शर्तों का चयन करने के बाद, ग्राहक चयनित बुनियादी असेट की मौजूदा दर की समीक्षा करेगा।
3.4. एक ट्रेड करने के लिए, ग्राहक कंपनी को ट्रेड करने का अनुरोध भेजता है जिसमें उपरोक्त उल्लिखित ट्रेडिंग की आवश्यक शर्तें होती हैं जिन्हें दोनों ग्राहक द्वारा चयनित और कंपनी द्वारा प्रस्तावित किया जाता है।
3.5. यदि ग्राहक के ट्रेडिंग टर्मिनल और कंपनी सर्वर के मध्य एक स्थिर इंटरनेट कनेक्शन है, तो एक ट्रेड करने का अनुरोध कंपनी सर्वर को भेजा जाता है, जहां इसकी सटीकता और मौजूदा बाज़ार परिस्थितियों के अनुपालन की जांच की जाती है। इसके बाद अनुरोध को सर्वर द्वारा या तो निष्पादित किया जाता है या रद्द कर दिया जाता है। यदि ट्रेड किया जाता है, तो ट्रेड राशि को, कमीशन शुल्क के साथ, ग्राहक के खाता बैलेंस से काट लिया जाएगा।
3.6. ट्रेड करने के अनुरोध को कंपनी द्वारा रद्द किया जा सकता है यदि:
ट्रेड राशि ग्राहक के खाता बैलेंस से अधिक है।
ट्रेड को स्वीकार करने का समय समाप्त हो चुका है।
चयनित बुनियादी असेट में ट्रेड करने का समय समाप्त हो चुका है।
जब ग्राहक ने अपना अनुरोध भेजा और जब कंपनी सर्वर ने इसे संसाधित किया, उसके बीच असेट की दर में उल्लेखनीय परिवर्तन हुआ।
कंपनी तरलता प्रदाताओं के साथ संबंधित ट्रेड को कर पाने में सक्षम नहीं है।
ग्राहक द्वारा खोले जाने वाले या कंपनी द्वारा तय किए गए ट्रेड की संख्या या मात्रा की सीमा लांघी जा चुकी है।
कंपनी द्वारा अपने विवेकानुसार तय की गईं अन्य परिस्थितियां उत्पन्न हो गई हैं।
नीचे वर्णित अपवादात्मक परिस्थितियों में।
3.7. कंपनी का सर्वर ट्रेड करने के अनुरोध के परिणाम के साथ ग्राहक के ट्रेडिंग टर्मिनल को एक संदेश भेजता है। यदि ग्राहक के ट्रेडिंग टर्मिनल और कंपनी सर्वर के मध्य एक स्थिर इंटरनेट कनेक्शन है, तो अनुरोध के परिणाम युक्त संदेश को ग्राहक के ट्रेडिंग टर्मिनल में प्रदर्शित किया जाएगा। यदि ऑर्डर को निष्पादित किया जा चुका है, तो ग्राहक ट्रेडिंग टर्मिनल पर एक चित्रात्मक पुष्टिकरण देखेगा, और ट्रेड के बारे में जानकारी ट्रेडिंग टर्मिनल के संबंधित भाग में दिखाई जाएगी। यदि ट्रेड करने के अनुरोध को रद्द कर दिया गया है, तो ग्राहक को एक त्रुटि संदेश दिखाई देगा।
3.8. यदि एक ट्रेड करने का अनुरोध भेजने के बाद एक उचित समयावधि के भीतर ग्राहक को ट्रेड किए जाने की चित्रात्मक पुष्टिकरण, ट्रेडिंग टर्मिनल के समुचित भाग में नए ट्रेड के बारे में जानकारी, या एक त्रुटि संदेश नहीं मिलता, तो ग्राहक निश्चित नहीं हो सकता कि ट्रेड किया जा चुका है या रद्द कर दिया गया है। ग्राहक को ट्रेड की स्थिति की जांच करने के लिए ग्राहक सहायता से संपर्क करने का अधिकार है।
3.9. ट्रेड करने का अनुरोध कंपनी सर्वर को भेजे जाने के बाद ग्राहक इसे रद्द नहीं कर सकता।
3.10. कंपनी की वेबसाइट पर प्रकाशित भुगतान अनुपात की जानकारी अनुमानित होती है। कंपनी वेबसाइट पर इंगित भुगतान अनुपात पर ट्रेड करने के लिए बाध्य नहीं है। भुगतान अनुपात के बारे में सटीक जानकारी ग्राहक को ट्रेडिंग टर्मिनल में दिखाई जाती है जब ट्रेड की आवश्यक शर्तों का चयन कर लिया जाता है और ग्राहक का ऑर्डर निष्पादित हो गया होता है।

4. ट्रेड बंद करना, भुगतान की गणना करना, ऑर्डर स्थापित करने और निष्पादित करने की प्रक्रिया

4.1. एक ट्रेड को बंद, कंपनी द्वारा प्रासंगिक साधन के लिए तय किए गए नियमों के आधार पर किया जाता है। जब एक ट्रेड को बंद किया जाता है, तब ट्रेड के वित्तीय परिणाम की गणना की जाती है और इसे ग्राहक के खाता बैलेंस में जोड़ दिया जाता है। इसके बाद ट्रेडिंग टर्मिनल में खुले ट्रेडों की सूची से ट्रेड हट जाता है।
4.2. ट्रेड के बंद होने पर विभिन्न साधनों के वित्त परिणाम की गणना निम्न प्रकार से की जाती है: (D×(Y-X)/X-C)×S×M, जहां D एक चर राशि है जिसका मान, बुनियादी असेट की गतिविधि की दिशा और गतिविधि की मौजूदा दिशा के संयोग के आधार पर ± 1 होता है, X एक पोज़ीशन खोलते समय बुनियादी असेट का एक कोटेशन है, Y एक पोज़ीशन बंद करते समय बुनियादी असेट का एक कोटेशन है, S ट्रेड की राशि है, M मल्टीप्लायर का मान है, C कमीशन शुल्क है।
4.3. ट्रेड बंद करने के लिए ग्राहक और कंपनी के मध्य ट्रेड बंद करने की आवश्यक शर्तों पर सहमति आवश्यक होती है। यह समझौता संदेशों के आदान-प्रदान से होता है, जैसे ट्रेड बंद करने के अनुरोध और ट्रेड बंद होने का पुष्टिकरण। एक ट्रेड को उपरोक्त वर्णित प्रक्रिया का पालन किए बिना बंद किया जा सकता है, यदि कंपनी को ग्राहक से ट्रेड जल्दी बंद करने की सहमति प्राप्त होती है। नीति के निम्नलिखित अनुभागों में एक ट्रेड बंद करने की आवश्यक शर्तों पर सहमत होने की प्रक्रिया का वर्णन किया गया है।
4.4. एक ट्रेड बंद करने के लिए, ग्राहक प्रासंगिक भाग में वह ट्रेड चुनेगा जिसे वह बंद करना चाहता है। इसके अलावा, ग्राहक चुने गए खुले ट्रेड को बंद करने की आवश्यक शर्त, अर्थात, इस ट्रेड के वित्तीय परिणाम की राशि की समीक्षा करेगा।
4.5. यदि ग्राहक एक ट्रेड बंद करने की शर्तों से सहमत है और एक ट्रेड बंद करना चाहता है, तो वह ट्रेड बंद करने का पुष्टिकरण कंपनी को भेजेगा। ट्रेड को पूरा होने से पहले बंद करने पर भुगतान राशि की गणना केवल कंपनी के विवेकानुसार एकतरफा ढंग से की जाती है, और ट्रेड राशि, इसकी अवधि, मौजूदा और लक्षित असेट कोटेशनों, बाज़ार की अस्थिरता, और अन्य बाज़ार परिस्थितियों पर निर्भर करती है।
4.6. यदि ग्राहक के ट्रेडिंग टर्मिनल और कंपनी सर्वर के मध्य एक स्थिर इंटरनेट कनेक्शन है, तो एक ट्रेड पूरा होने से पहले बंद करने का अनुरोध कंपनी सर्वर को भेजा जाता है, जहां इसकी सटीकता और मौजूदा बाज़ार परिस्थितियों के अनुपालन की जांच की जाती है। इसके बाद अनुरोध को सर्वर द्वारा या तो निष्पादित किया जाता है या रद्द कर दिया जाता है। यदि ट्रेड बंद किया जाता है, तो भुगतान राशि को ग्राहक के खाता बैलेंस में जोड़ दिया जाता है।
4.7. ट्रेड बंद करने के अनुरोध को रद्द किया जा सकता है यदि:
ट्रेडिंग टर्मिनल और कंपनी सर्वर पर एक ट्रेड की आवश्यक शर्तों के बारे में जानकारी में कोई असमानता है।
कंपनी द्वारा अपने विवेकानुसार तय की गईं अन्य परिस्थितियां उत्पन्न होने पर।
नीचे वर्णित अपवादात्मक परिस्थितियों में।
4.8. कंपनी का सर्वर ट्रेड अनुरोध के परिणाम के साथ ग्राहक के ट्रेडिंग टर्मिनल को एक संदेश भेजता है। यदि ग्राहक के ट्रेडिंग टर्मिनल और कंपनी सर्वर के मध्य एक स्थिर इंटरनेट कनेक्शन है, तो ट्रेड को पूरा होने से पहले बंद करने के अनुरोध का परिणाम ग्राहक के ट्रेडिंग टर्मिनल में प्रदर्शित किया जाएगा।
4.9. यदि, ट्रेड पूरा होने से पहले बंद करने का अनुरोध भेजने के बाद, एक उचित अवधि में ट्रेडिंग टर्मिनल पर अनुरोध का परिणाम नहीं दिखता है, तो ग्राहक निश्चित नहीं हो सकता कि ट्रेड बंद किया गया है या ट्रेड बंद करना अस्वीकार कर दिया गया है। ग्राहक को अनुरोध के परिणाम पर स्पष्टीकरण पाने के लिए ग्राहक सहायता से संपर्क करने का अधिकार है।
4.10. ट्रेड बंद करने का अनुरोध कंपनी सर्वर को भेजे जाने के बाद ग्राहक इसे रद्द नहीं कर सकता।
4.11. कंपनी की वेबसाइट पर प्रकाशित ट्रेड बंद करने की भुगतान राशि की जानकारी अनुमानित होती है। भुगतान राशि के बारे में सटीक जानकारी को, ट्रेड बंद करने का अनुरोध संसाधित होने के बाद, ग्राहक को ट्रेडिंग टर्मिनल में दर्शाया जाता है।
4.12. ग्राहक के पास ट्रेडिंग के समय के दौरान ट्रेडिंग टर्मिनल के माध्यम से एक खुले ट्रेड के संदर्भ में ट्रेड शर्तों में बदलाव का अनुरोध भेजने का अधिकार है।
कंपनी एकतरफा ढंग से और अपने विवेकानुसार ट्रेडिंग समय के अलावा ऐसे अनुरोधों का निदेशन और निष्पादन प्रतिबंधित कर सकती है।
ट्रेड के शर्तों में किसी भी बदलाव के लिए यह आवश्यक हो सकता है कि कंपनी द्वारा एकतरफा ढंग से तय की गईं और ट्रेडिंग टर्मिनल पर लागू की गईं शर्तों को पूरा किया जाए, जिनमें बुनियादी असेट के वर्तमान मूल्य से मूल्य स्तर की दूरी का स्तर, ट्रेड की राशि, और कुछ विशिष्ट अनुरोधों के लिए अन्य शर्तें शामिल हैं।
कंपनी ग्राहक द्वारा जमा किए गए एक अनुरोध को एकतरफा ढंग से रद्द कर (हटा) देगी यदि:
अनुरोध का समय समाप्त हो चुका है (यदि समाप्ति समय दर्शाया जा चुका है)।
जिस ट्रेड के संबंध में अनुरोध भेजा गया, वह बंद हो चुका है।
अनुरोध का निष्पादन कंपनी द्वारा उठाए गए गलत कदमों (तकनीकी त्रुटि, नॉन-मार्केट कोटेशन फ़ीड में दिखे, आदि) की वजह से संभव हुआ है।
यदि ग्राहक के अनुरोधों की संख्या से कंपनी के सर्वर पर बोझ बढ़ने का खतरा उत्पन्न होता है।
कंपनी ने ग्राहक को सेवाएं प्रदान करने से मना कर दिया है।

5. ट्रेडिंग समय

5.1. ट्रेडिंग की समय-सारिणी कंपनी तय करती है, अर्थात वह समय जिसमें प्रत्येक बुनियादी असेट के लिए अलग-अलग, ट्रेड खोले और बंद किए जा सकते हैं।
5.2. कंपनी की वेबसाइट पर प्रकाशित ट्रेडिंग समय के बारे में जानकारी, जो निःशुल्क उपलब्ध है, अनुमानित होती है। ट्रेडिंग की समय-सारिणी कंपनी अपने विवेकानुसार तय करती है।

6. अपवादात्मक परिस्थितियां

6.1. अपवादात्मक परिस्थितियों में, ट्रेडिंग लेन-देनों के निष्पादन के दौरान कंपनी द्वारा उठाए जाने वाले कदम नीति में वर्णित कदमों से भिन्न हो सकते हैं।
6.2. अपवादात्मक परिस्थितियों में शामिल हैं:
वे बाज़ार परिस्थियां जिनमें कोटेशन लंबे समय के लिए सामान्य बाजार परिस्थितियों की अपेक्षा धीमी गति से ट्रेडिंग प्लेटफ़ॉर्म पर पहुंचते हैं।
वे बाज़ार परिस्थितियां जिनमें अल्प समय में दर में तेज़ बदलाव देखने को मिलते हैं।
बाज़ार को उल्लेखनीय ढंग से प्रभावित करने वाले प्रमुख वृहत-अर्थशास्त्र सूचकांकों का प्रकाशन।
केंद्रीय बैंकों द्वारा ब्याज दर के निर्णयों की घोषणाएं।
केंद्रीय बैंकों, राष्ट्र प्रमुखों, वित्त मंत्रियों, कंपनी मालिकों और एक्सचेंजों, आदि की सार्वजनिक उपस्थिति, प्रस्तुतियां।
सरकारी संस्थाओं द्वारा विदेशी विनिमय बाज़ार में हस्तक्षेप (मुद्रा मैनिपुलेशन)।
देशव्यापी पैमाने पर आतंकी घटनाएं और प्राकृतिक आपदाएं।
युद्ध, सैन्य कार्यवाही, दंगे छिड़ना।
राजनीतिक अप्रत्याशित घटनाएं जैसे सरकारी प्रतिनिधियों और कंपनी प्रमुखों के इस्तीफ़े, नियुक्तियां, चुनाव।
तकनीकी खराबी और/या कंपनी और/या तृतीय पक्ष के उपकरणों और सॉफ़्टवेयर का गलत संचालन जिसके परिणामस्वरूप कंपनी ग्राहक को समुचित ढंग से सेवा प्रदान करने में अक्षम हो जाती है।
सेवा समझौता, भाग 2 के खंड 7.1. में सूचीबद्ध परिस्थितियां।
अन्य चरम और अपरिहार्य स्थितियां (अप्रत्याशित घटनाएँ)।
6.3. अपवादात्मक परिस्थितियों में, कंपनी ट्रेडिंग लेन-देनों को कंपनी सामान्य परिस्थितियों की भांति बनाने का हर संभव प्रयास करेगी, लेकिन, तदापि, कंपनी के पास निम्नलिखित अधिकार सुरक्षित हैं:
क) भुगतान अनुपात घटाना।
ख) पहले से किए गए ट्रेड खोलने, पूरा होने से पहले बंद करने या रद्द करने, और पहले किए गए ट्रेडों के वित्तीय परिणामों में (रद्द करने सहित) संशोधन करने के किसी भी अनुरोध को अस्वीकार करना।
ग) एक निश्चित समयावधि में एक ग्राहक से प्राप्त होने वाले अनुरोधों की संख्या सीमित करना।
घ) ट्रेडिंग लेन-देन करने के मौजूदा ट्रेडिंग समय को सीमित करना।
ङ) कुछ विशिष्ट प्रकार के बुनियादी असेट्स के लिए ट्रेडिंग अस्थाई तौर पर बंद करना, और/या
च) ट्रेडिंग लेन-देनों को पूरी तरह बंद करना।
6.4. नीति के खंड 6.2 में उल्लिखित अपवादात्मक परिस्थितियों के अलावा, कंपनी के पास नीति और/या समझौते की अन्य शर्तों के अनुसार खंड 6.3 में उल्लिखित कोई विशिष्ट या सभी कदम उठाने का अधिकार है।