ग़ैर-ट्रेडिंग लेन-देन विनियम और KYC/AML नीति

प्रभावी तिथि
01.02.2017
अपडेटेड
04.04.2019

1. सामान्य प्रावधान

1.1. इस नीति ("नीति") को FATF (फाइनेंशियल एक्शन टास्क फोर्स ऑन मनी लॉन्डरिंग) की सिफारिशों के कार्यान्वयन के भाग के रूप में विकसित किया गया है, जो कानून के उल्लंघनों की पहचान करने और उसे रोकने के लिए, और मनी लॉन्ड्रिंग और आंतकवाद वित्तपोषण के कानून के साथ अनुपालन करने के लिए, और ग्राहक के खाते में डिपॉज़िट करने, निकासी करने, और अन्य ग़ैर-ट्रेडिंग लेन-देनों की प्रक्रियाओं को स्थापित करने के लिए वित्तीय दुर्व्यवहार को रोकने पर केंद्रित है। यह नीति भुगतान एजेंटों और कंपनी के ग्राहकों के सहित कंपनी और सभी भागीदारियों को कवर करती है।
1.2. ग्राहक कानूनी मूल, कानूनी अधिग्रहण, और कंपनी के खाते में ट्रांसफर की गई निधियों का उपयोग या प्रबंधित करने के अधिकार की गारंटी देती है।
1.3. ग्राहक निम्न ज़िम्मेदारियां लेता है:
1.3.1. अंतर्राष्ट्रीय मानकों के सहित कानूनी मानकों का अनुपालन करना, जो ग़ैर-कानूनी ट्रेडिंग, वित्त धोखाधड़ी, और मनी लॉन्ड्रिंग पर केंद्रित है।
1.3.2. ग़ैर-कानूनी वित्त गतिविधियों और किन्ही अन्य ग़ैर-कानूनी लेन-देनों में प्रत्यक्ष या ग़ैर-प्रत्यक्ष मिलीभगत से बचना।
1.3.3. वित्त धोखाधड़ी में और अंतर्राष्ट्रीय कानून और कानूनी मानकों के विपरीत अन्य कार्यों में प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष मिलीभगत से बचना।
1.3.4. ऐसे किन्हीं कार्यों में कंपनी की सेवाओं का व्यवहारिक गतीविधियों में उपयोग करने से बचना जो प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप से मनी लॉन्ड्रिंग से लड़ने के प्रयास को प्रभावित करती हैं।
1.4. कंपनी के पास इस नीति के अनुभाग 2 में नियत संदिग्ध ग़ैर-ट्रेडिंग लेन-देनों की प्रकृति की जाँच करने और उन लेन-देनों को तब तक निलंबित करने का अधिकार आरक्षित है, जब तक उनको करने के कारणों की पुष्टि न हो जाए और जब तक जाँच कई बार समाप्त न हो गई हो।
1.5. एक जाँच के दौरान, नीति के इस अनुभाग के अनुसार, कंपनी के पास ग्राहक को पहचान दस्तावेज़ (पासपोर्ट, पहचान कार्ड, ड्राइवर लाइसेंस, आदि), रिहायशी पते, भुगतान की पुष्टि करते हुए दस्तावेज़ और अन्य दस्तावेज़ और कानूनी अधिग्रहण और निधियों के कानूनी मूल की पुष्टि करते हुए बैंक कार्ड, ग्राहक की वित्त स्थिति की पुष्टि करते हुए दस्तावेज़, और अंतर्राष्ट्रीय, कानूनी विनियमों और कानूनों के सहित किन्हीं लागू कानूनों के कारण कंपनी द्वारा आवश्यक कोई अन्य दस्तावेज़ प्रदान करने के लिए कहने का अधिकार आरक्षित है।
1.6. यदि किन्हीं संदिग्ध गैर-ट्रेडिंग कार्यों का पता चलता है, तो कंपनी के पास अधिकार होगा कि वह तुरंत और एकतरफ़ा रूप से:
ग्राहक के लिए उन्हें करने से मना करे
कंपनी की इच्छा से किसी भी माध्यम से ग्राहक के खाते से पैसों की निकासी करने पर सीमा लगाए
पूर्व रूप से ग्राहक के खाते में डाले गए पैसों को उस स्त्रोत को वापिस करे जहाँ से डिपॉज़िट किया गया था
ग्राहक का खाता बंद करे और सेवा देना जारी रखना बंद करे
ग्राहक के खाते से संदिग्ध ग़ैर-ट्रेडिंग लेन-देन के साथ संबंधित सभी कमीशनों और अन्य खर्चों को डेबिट करे
कंपनी के और (या) ग्राहकों के बैंकों और (या) PSP के कमीशनों के सहित निकासी की गई राशि से 20% (बीस प्रतिशत) की कटौती करे
ग्राहक की खुली हुई पोज़ीशनों (ट्रेडों) को बंद करे और वित्त परिणाम का दस्तावेज़ीकरण करे
ग्राहक के खाते से उसे ग्रांट किए गए बोनसों को डेबिट करे
ट्रेडिंग टर्मिनल पर किन्हीं लेन-देनों को ब्लॉक करे
ग्राहक के साथ समझौते को रद्द करे
अन्य कार्यों का संचालन करे जिन्हें कंपनी इस विनियम और लागू कानूनी विनियमों और विधान के साथ अनुपालन करने के लिए आवश्यक और पर्याप्त माने।
यह सूची विस्तृत नहीं है और कंपनी की इच्छा के अनुसार इस में वृद्धि की जा सकती है।
1.7. कंपनी द्वारा संदिग्ध ग़ैर-ट्रेडिंग लेन-देनों की पहचान के साथ संबंधित संदिग्ध ग़ैर-ट्रेडिंग लेन-देन करने से मना करने और ग्राहक के साथ समझौते को रद्द करने को समझौते का उल्लंघन करने के लिए कंपनी की कानूनी ज़िम्मेदारी के लिए कारण नहीं माना जाएगा।
1.8. कंपनी के पास ग्राहक का खाता बंद करने का अधिकार है यदि ग्राहक के खाते में 12 (बारह) निरंतर माह से कोई लेन-देन नहीं है और यदि खाते में कोई पैसे नहीं हैं।
1.9. यह विनियम खुला है और कंपनी और ग्राहक के बीच के अनुबंध का अटूट भाग है। इस नीति की सामग्री का खुलासा किन्हीं संबंधित पक्षों के अनुरोध पर बिना किन्हीं सीमाओं पर किया जाता है। और इसी साथ, कंपनी ग्राहकों और अन्य व्यक्तियों को अपराध से कमाए धन के कानूनीकरण (लॉन्ड्रिंग), आतंकवाद का वित्तपोषण करने, और अत्याधिक विनाश के हथियारों के प्रचार के वित्तपोषण का प्रतिकार करने के लिए किए गए उपायों के बारे में सूचित नहीं करेगी जब तक लागू कानून और इनके विनियम द्वारा प्रदान नहीं किया जाएगा।
1.10. ग़ैर-ट्रेडिंग संचालनों के संबंध में इस समझौते और इसके अटूट भागों के कुछ प्रावधानों के साथ इस विनियम के कुछ प्रावधानों के ग़ैर-अनुपालन की स्थिति में, इस विनियम के प्रावधान लागू होंगे जब तक अन्यथा इस ज़िम्मेदारी के निष्कर्ष का पालन न हो। इस स्थिति का परिणाम इन दस्तावेज़ों के अन्य प्रावधानों की अवैधता नहीं होती।

2. संदिग्ध ग़ैर-ट्रेडिंग लेन-देनों का पहचान मापदंड और लक्षण

2.1. कंपनी किसी ग़ैर-ट्रेडिंग कार्य को संदिग्ध मान सकती है यदि:
ट्रेडिंग लेन-देन करने के इरादे के बिना लेन-देनों का दुरुपयोग (ग्राहक के खाते को किए गए डिपॉज़िट, ग्राहक के खाते से की गई निकासियाँ) या जब कम/अपर्याप्त ट्रेडिंग लेन-देन मात्राएँ पाई जाती हैं।
लेन-देनों की असामान्य प्रकृति पाई जाती है जिसका कोई स्पष्ट आर्थिक भाव नहीं निकलता या कोई स्पष्ट कानूनी उद्देश्य नहीं है।
ऐसी स्थितियाँ पाई जाती हैं जो यह सुझाव दें कि लेन-देन मनीलॉन्ड्रिंग या आतंकवाद को वित्तपोषित करने के उद्देश्य से किए गए हैं।
ग्राहक कंपनी द्वारा निर्दिष्ट पहचान संबंधी जानकारी प्रदान ना करे, गलत जानकारी प्रदान करे और/या उसके द्वारा दिए गए पतों और टेलीफ़ोन नंबरों पर संपर्क नहीं किया जा रहा हो।
ग्राहक ने लाभार्थी के लिए अर्थात्, वह व्यक्ति जिसके लाभ के लिए ग्राहक कार्य कर रहा है, पहचान संबंधी जानकारी प्रदान नहीं की है (विशेष रूप से, ग़ैर- ट्रेडिंग लेन-देन करने के लिए एजेंसी समझौते, असाइनमेंट के समझौतों, कमीशन और ज़िम्मेदार व्यक्ति के प्रबंधन के आधार पर)।
नकली या अवैध दस्तावेज़ और घटिया गुणवत्ता वाले दस्तावेज़ (काले और सफेद, अपठनीय) प्रदान किए जाते हैं।
ग्राहक ने कंपनी के अनुरोध पर ग्राहक के लाभार्थी स्वामी की पहचान संबंधी जानकारी प्रदान नहीं की है।
ग्राहक ने कंपनी द्वारा मांगी गई जानकारी प्रदान नहीं की, जिसमें ग्राहक की वित्त स्थिति शामिल है।
ग्राहक अंतर्राष्ट्रीय और (या) अन्य किसी वांछित सूची में शामिल है या सत्यापन प्रक्रिया के माध्यम से कंपनी द्वारा प्राप्त हुआ ग्राहक और (या) ग्राहक के भुगतान स्रोतों के बारे में डेटा इंगित करता है कि ग्राहक कानूनी रूप से धन के स्रोतों पर प्रक्रिया नहीं करता है या अवैध उद्दश्यों के लिए धन स्रोतों का उपयोग किया जाता है।
ग्राहक ऐसे ग़ैर-ट्रेडिंग लेन-देन करता है जो विश्वसनीय नहीं हैं या अपमानजनक तरीके से इनका निष्पादन करता है।
ग्राहक अंतर्राष्ट्रीय और (या) अन्य किसी वांछित सूची में शामिल है या सत्यापन प्रक्रिया के माध्यम से कंपनी द्वारा प्राप्त हुआ ग्राहक और (या) ग्राहक के भुगतान स्रोतों के बारे में डेटा इंगित करता है कि ग्राहक कानूनी रूप से धन के स्रोतों पर प्रक्रिया नहीं करता है या अवैध उद्दश्यों के लिए धन स्रोतों का उपयोग किया जाता है।
2.2. नीति के इस अनुभाग में निर्दिष्ट संदिग्ध लेन-देनों की पहचान और लक्षणों के मापदंड विस्तृत नहीं हैं। कंपनी किसी ग़ैर-ट्रेडिंग लेन-देन को लेन-देन, इसके तत्वों, उपस्थित स्थितियों की प्राकृति के विश्लेषण, और ग्राहक या उसके प्रतिनिधि के साथ बातचीत के आधार पर संदिग्ध मान सकती है, इस विनियम के अनुभाग में बताए गए औपचारिक मापदंड और लक्षण के बिना भी।
2.3. यदि संदिग्ध ग़ैर-ट्रेडिंग लेन-देन पाए जाते हैं, तो कंपनी ग्राहक, उसके खाते और उसके ट्रेडिंग और ग़ैर-ट्रेडिंग लेन-देनों के संबंध में अगली कार्यवाहियों पर स्वयं निर्णय लेती है।

3. ग़ैर-ट्रेडिग लेन-देनों के लिए भुगतान और सामान्य प्रावधान

3.1. ग्राहक किसी भी मुद्रा में किसी भी समय ग्राहक के खाते में पैसों को ट्रांसफर कर सकता है जो कंपनी को ग्राहक के ग़ैर-ट्रेडिंग लेन-देन के देश में स्वीकार्य है। ग्राहक के पैसे कंपनी के खातों में रखे जाते हैं, जिसमें ग्राहक के पैसों को कंपनी के पैसों से अलग रखने के लिए कंपनी के नाम में खोले गए अलग खाते भी शामिल हैं। भुगतानों की सुरक्षा और अंतर्राष्ट्रीय भुगतान प्रणालियों की आवश्यकताओं के अनुसार सभी भुगतान और भुगतान ट्रांसफर करने की जानकारी कंपनी द्वारा एनक्रिप्ट किए गए संचार चैनलों पर की जाती है। भुगतान कार्ड उद्योग सुरक्षा मापदंड काउंसल की सिफारिशों के अनुसार, ट्रांसपोर्ट लेवल पर एन्क्रिप्शन का उपयोग ग्राहक के डेटा की सुरक्षा करने के लिए किया जाता है - TLS 1.3 और आवेदन लेवल पर - AES एल्गोरिदम।
3.2. ग्राहक के खाते में/से पैसों को डालने और निकासी करने के लिए लेन-देनों का संचालन इस विनियम के अधीन किया जाता है।
3.3. ग्राहक उसके द्वारा किए गए भुगतानों के सही होने के लिए ज़िम्मेदार होता है। यदि कंपनी के बैंक विवरण बदलते हैं, तो ग्राहक आउटडेटेड विवरणों पर किए गए भुगतानों के लिए ज़िम्मेदार होता है जैसे ही नई जानकारी ट्रेडिंग टर्मिनल पर पोस्ट की जाती है।
3.4. प्रत्येक ग्राहक के ग़ैर-ट्रेडिंग लेन-देनों की पुष्टि संगत अनुभाग में ट्रेडिंग टर्मिनल द्वारा रिकॉर्ड की जाती है। ग्राहक को स्वतंत्र रूप से ग़ैर-ट्रेडिंग लेन-देनों और खाता बैलेंस की राशि की सटीकता और सही होने का निरीक्षण करना चाहिए और ट्रेडिंग टर्मिनल के प्रासंगिक अनुभाग की अन्य जानकारी की सटीकता और सही होने का निरीक्षण करना चाहिए। यदि ग्राहक को उसके ग़ैर-ट्रेडिंग लेन-देनों, या तो खाता बैलेंस या अन्य जानकारी के संबंध में रिकॉर्ड में कोई त्रुटि दिखाई देती है, तो वह यथासंभव शीघ्र कंपनी की वेबसाइट पर दी गई संपर्क जानकारी का उपयोग करते हुए कंपनी को सूचित करने के लिए ज़िम्मेदार है। ग्राहक के पास समझौते की आश्यकताओं के अनुसार दावा तैयार करने का अधिकार भी होगा।
3.5. यदि किसी कंपनी के ग्राहक ने 6 माह के लिए ट्रेडिंग टर्मिनल पर कोई लेन-देन नहीं किया है जिसके कारण ग्राहक के खाता बैलेंस में परिवर्तन हो, तो कंपनी के पास ट्रेडिंग टर्मिनल तक पहुँच प्रदान करने के लिए सबस्क्रिप्शन शुल्क (कमीशन) की शुरुआत करने का अधिकार आरक्षित है। सबस्क्रिप्शन शुल्क को निकालने की राशि और प्रक्रिया को कंपनी की इच्छा के अनुसार निर्धारित किया जाता है।

4. ग्राहक के खाते में निधियों को क्रेडिट करना

4.1. किसी ग्राहक को कंपनी की सेवाएँ केवल ग्राहक के खाते में पड़े पैसों के खर्च पर ही मिल सकती हैं, अन्यथा यदि समझौते में निर्दिष्ट किया गया हो। ग्राहक के खाते को कंपनी के खातों में या कंपनी के अधिकृत भुगतान एजेंटों के खातों में पैसों को ट्रांसफर कर के भरा जा सकता है। कंपनी ट्रेडिंग टर्मिनल पर अधिकृत भुगतान एजंटों और उनके बैंक विवरणों की सूची को पोस्ट कर सकती है।
4.2. कंपनी के खातों में ट्रांसफर किए गए पैसों को आवश्यकताओं के साथ अनुपालन करना ज़रूरी है और उन देशों के लागू कानूनों और अन्य कानूनी कार्यवाहियों द्वारा स्थापित प्रतिबंधों पर ध्यान देना चाहिए जिसके अधिकार-क्षेत्र के अधीन ट्रांसफर किया गया है।
4.3. कंपनी ग्राहक के खाते में कंपनी द्वारा प्राप्त की गई राशि क्रेडिट करेगी जो कि ग्राहक द्वारा इस विनियम के प्रावधानों के साथ अनुपालन के अदीन होगी।
4.4. ग्राहक के खाते में पैसे ग्राहक के खाते की मुद्रा में क्रेडिट किए जाते हैं, उस मुद्रा पर ध्यान दिए जाने के बिना जिसमें ट्रांसफर किया गया था। यदि ट्रांसफर मुद्रा ग्राहक की खाता मुद्रा से अलग है, तो ट्रांसफर राशि को ग्राहक के खाते की मुद्रा में तबदील किया जाएगा, उस समय की एक्सचेंज दर पर, जब कंपनी के खाते में भुगतान प्राप्त किया गया था। कंपनी कन्वर्ज़न दर को तय करती है। भुगतान सेवा प्रदाताओं द्वारा स्थापित मामलों में, पैसों को ग्राहक के बाहरी खाते में उस मुद्रा में तबदील किया जा सकता है, जो कि ग्राहक के बाहरी खाते की मुद्रा से अलग होगी।
4.5. ग्राहक के खाते की मुद्रा और क्रेडिट ढंग पर निर्भर करते हुए कंपनी ग्राहक के खाते में ट्रांसफर जिस मुद्रा में स्वीकार करती है, वह ट्रेडिंग टर्मिनल में दी गई होती है।
4.6. कंपनी के पास ट्रांसफर के ढंग और ट्रांसफर मुद्रा पर निर्भर करते हुए पैसों की न्यूनतम और अधिकतम राशियों पर प्रतिबंध लगाने का अधिकार आरक्षित है।
4.7. ग्राहक के उस खाते में पैसों को क्रेडिट करना जो क्षतिपूर्ति भुगतानों के साथ प्रत्यक्ष रूप से संबंधित नहीं है, वह निम्न स्थितियों में होती हैं:
क) यदि ग्राहक द्वारा ट्रांसफर की गई राशियाँ कंपनी के खाते में प्राप्त होती हैं।
ख) यदि पूर्व समय में ग्राहक को ट्रांसफर की गई राशि कंपनी के खातों में वापिस की जाती है यदि ग्राहक के साथ तुरंत समस्या का हल करने के लिए और पैसों को दुबारा भेजने के लिए संपर्क नहीं किया जा सकता।
4.8. कंपनी के खाते में पैसे प्राप्त होने के दिन के अगले दिन पैसे ग्राहक के खाते में 1 (एक) व्यापारिक दिवस में क्रेडिट किए जाते हैं।
4.9. यदि ग्राहक द्वारा भेजे गए पैसे 5 (पाँच) व्यापारिक दिवसों के अंदर ग्राहक के खाते में ट्रांसफर नहीं किए जाते, तो ग्राहक के पास कंपनी द्वारा ट्रांसफर की जाँच करने के लिए कहने का अधिकार है। किसी ट्रांसफर की जाँच करने के लिए, ग्राहक को समझौते के अनुसार अनुरोध जारी करना चाहिए और कंपनी को पैसों के ट्रांसफर की पुष्टि करते हुए दस्तावेज़ प्रदान करने चाहिए।

5. ग्राहक के खाते में डिपॉज़िट करने के ढंग

5.1. बैंक लेन-देन।
5.1.1. ग्राहक किसी भी समय बैंक ट्रांसफर के माध्यम से डिपॉज़िट कर सकता है, यदि ट्रांसफर के समय कंपनी उस डिपॉज़िट विधि के साथ काम करती है।
5.1.2. ग्राहक मनी ट्रांसफर की इस विधि का उपयोग केवल कंपनी द्वारा अपनी इच्छा के अनुसार निर्धारित किए गए दस्तावेज़ों की सूची प्रदान करने के बाद कर सकता है।
5.1.3. ग्राहक केवल अपने व्यक्तिगत खाते से डैशबोर्ड में निर्दिष्ट कंपनी बैंक के खाते को बैंक ट्रांसफर कर सकता है या बैंक खाता खोले बिना स्वयं भुगतान कर सकता है। यदि ट्रांसफर इस समझौते या इस विनियम के खंड 1.4.6 की शर्तों के उल्लंघन में किया गया था तो कंपनी के पास कंपनी के खाते में प्राप्त हुए पैसों को ट्रांसफर करने से मना करने का अधिकार होता है। साथ ही, ऐसे उल्लंघन का पता लगने की स्थिति में कंपनी के पास स्वयं समझौते को रद्द करने और ग्राहक को आगे की सेवा प्रदान करने के लिए मना करने का अधिकार होता है।
5.1.4. बैंक ट्रांसफर करने से पहले, ग्राहक को डैशबोर्ड में कंपनी के बैंक के विवरण और भुगतान के उद्देश्य की पुष्टि करनी होगी। यदि कोई ग्राहक निर्दिष्ट भुगतान के उद्देश्य के लिए ट्रांसफर नहीं कर सकता, तो उसे समस्या को व्यक्तिगत रूप से सुलझाने के लिए कंपनी के साथ संपर्क करना चाहिए।
5.1.5. कंपनी के पास ऐसे भुगतान के उद्देश्य के लिए कंपनी के बैंक खाते में प्राप्त हुए पैसों को ट्रांसफर करने से मना करने का अधिकार आरक्षित है जो डैशबोर्ड में निर्दिष्ट उद्देश्य से अलग है और यदि ट्रांसफर तीसरे पक्ष की तरफ से किया गया हो। इस स्थिति में, कंपनी पैसों को उसी बैंक खाते में भेज देता है जहाँ से उन्हें ट्रांसफर किया गया था। इस ट्रांसफऱ के साथ संबंधित सभी खर्चों का भुगतान ग्राहक द्वारा किया जाएगा।
5.1.6. ग्राहक यह समझता है और सहमत होता है कि कंपनी बैंक ट्रांसफर में लगने वाले समय के लिए ज़िम्मेदार नहीं है।
5.2. इलेक्ट्रॉनिक ट्रांसफर।
5.2.1. ग्राहक किसी भी समय इलेक्ट्रॉनिक ट्रांसफर के माध्यम से डिपॉज़िट कर सकता है, यदि ट्रांसफर के समय कंपनी उस डिपॉज़िट विधि के साथ काम करती है।
5.2.2. ग्राहक कंपनी के खातों में इलेक्ट्रॉनिक ट्रांसफर केवल अपने व्यक्तिगत ई-वॉलेट से कर सकता है। यदि ट्रांसफर इस समझौते या इस विनियम की शर्तों के उल्लंघन में किया गया था तो कंपनी के पास कंपनी के खाते में प्राप्त हुए पैसों को ट्रांसफर करने से मना करने का अधिकार होता है। कंपनी के पास स्वयं समझौते को रद्द करने और इस तरह के उल्लंघन की पहचान करने की घटना में ग्राहक को आगे सेवाएँ देना जारी रखने से इनकार करने का भी अधिकार होता है।
5.2.3. इलेकट्रॉनिक ट्रांसफर करने से पहले, ग्राहक को कंपनी के खाते विवरणों की पुष्टि करनी होगी।
5.2.4. ग्राहक यह समझता है और सहमत होता है कि कंपनी इलेक्ट्रॉनिक ट्रांसफर में लगने वाले समय के लिए ज़िम्मेदार नहीं है और ना ही तकनीकी असफलता का कारण बनने वाली स्थितियों के लिए ज़िम्मेदार है, यदि वह कंपनी की गलती नहीं थी, बल्कि इलेक्ट्रॉनिक भुगतान प्रणाली की गलती थी।
5.3. प्रोसेसिंग केंद्र के माध्यम से बैंक कार्ड से ट्रांसफर।
5.3.1. ग्राहक किसी भी समय बैंक ट्रांसफर के माध्यम से प्रोसेसिंग केंद्र से डिपॉज़िट कर सकता है, यदि ट्रांसफर के समय कंपनी उस डिपॉज़िट विधि के साथ काम करती है।
5.3.2. ग्राहक अंतर्राष्ट्रीय भुगतान प्रणाली के बैंक कार्ड से ट्रांसफर कर सकता है, जिसकी किस्म डैशबोर्ड में निर्दिष्ट है।
5.3.3. ग्राहक केवल अपने नाम में पंजीकृत बैंक कार्ड से ट्रांसफर कर सकता है। यदि ट्रांसफर इस समझौते या इस विनियम की शर्तों के उल्लंघन में किया गया था तो कंपनी के पास कंपनी के खाते में प्राप्त हुए पैसों को ट्रांसफर करने से मना करने का अधिकार होता है। कंपनी के पास स्वयं समझौते को रद्द करने और इस तरह के उल्लंघन की पहचान करने की घटना में ग्राहक को आगे सेवाएँ देना जारी रखने से इनकार करने का भी अधिकार होता है।
5.3.4. कंपनी के पास प्रोसेसिंग केंद्र में कंपनी के खातों में प्राप्त हुए पैसों को ट्रांसफर करने से मना करने का अधिकार आरक्षित है यदि ट्रांसफर तीसरे पक्ष की ओर से किया गया था। इस स्थिति में, कंपनी पैसों को उसी बैंक खाते में भेज देती है जहाँ से उन्हें ट्रांसफर किया गया था। इस ट्रांसफऱ के साथ संबंधित सभी खर्चों का भुगतान ग्राहक द्वारा किया जाएगा।
5.3.5. ग्राहक यह समझता है और सहमत होता है कि कंपनी ट्रांसफर में लगने वाले समय के लिए ज़िम्मेदार नहीं है और ना ही तकनीकी असफलता का कारण बनने वाली स्थितियों के लिए ज़िम्मेदार है, यदि वह कंपनी की गलती नहीं थी, बल्कि अंतर्राष्ट्रीय भुगतान प्रणाली के प्रोसेसिंग केंद्र की गलती थी।

6. ग्राहक के खाते में निधियों की निकासी करना

6.1. ग्राहक किसी भी समय कंपनी को एक निकासी अनुरोध भेज कर अपने खाते में उसके सभी पैसों या उसके भाग को प्रबंधित कर सकता है जिसमें निम्नलिखित शर्तों के अधीन ग्राहक के खाते से पैसों की निकासी करने के लिए ग्राहक के निर्देश शामिल होते हैं:
क) कंपनी ऑर्डर निष्पादित किए जाने के समय पर केवल ग्राहक के खाता बैलेंस में ग्राहक के ट्रेडिंग खाते में आदेश को निष्पादित करेगी। यदि ग्राहक द्वारा बाहर निकाली गई राशि (कमीशनों और भुगतान के लिए इस नीति द्वारा अपेक्षित अन्य खर्च) ग्राहक के खाता बैलेंस की राशि से अधिक होती है, तो कंपनी के पास ऑर्डर के लिए इनकार करने का अधिकार है।
ख) ग्राहक के खातों से निकासी करने के लिए ग्राहक के निर्देशों को आवश्यकताओं के साथ अनुपालन करना ज़रूरी है और उन देशों के लागू कानूनों और अन्य कानूनी कार्यवाहियों द्वारा स्थापित प्रतिबंधों पर ध्यान देना चाहिए जिसके अधिकार-क्षेत्र के अधीन ट्रांसफर किया गया है।
ग) ग्राहक के खातों से निकासी करने के लिए ग्राहक के निर्देशों को आवश्यकताओं के साथ अनुपालन करना ज़रूरी है और इस विनियम और कंपनी के अन्य दस्तावेज़ों द्वारा स्थापित प्रतिबंधों पर विचार देना चाहिए।
घ) ग्राहक के खाते से पैसों की निकासी उसी भुगतान साधन में की जाती है जहाँ से पहले ग्राहक ने डिपॉज़िट किया था, और कंपनी निकासी की राशि को उस भुगतान साधन के ग्राहक के खाते को किए गए डिपॉज़िट की राशि तक सीमित कर सकती है। कंपनी अपनी इच्छा अनुसार इस नियम के लिए विशेष शर्तें निर्धारित कर सकती है और ग्राहक के पैसों की अन्य भुगतान साधनों में निकासी कर सकती है; कंपनी किसी भी समय अन्य भुगतान साधनों के भुगतान विवरणों के बारे में ग्राहक को पूछने की हकदार है, और ग्राहक को अनुरोध किए हुए भुगतान विवरणों की आवश्यक रूप से कंपनी को सूचना देनी चाहिए।
6.2. कंपनी द्वारा अधिकृत एजेंट द्वारा ग्राहक के बाहरी खाते में पैसों के ट्रांसफर का निकासी अनुरोध निष्पादित किया जा सकता है।
6.3. ग्राहक खाते की मुद्रा में निकासी अनुरोध तैयार करेगा। यदि खाते की मुद्रा ट्रांसफर मुद्रा से अलग है, तो कंपनी को ग्राहक के खाते को डेबिट करने के समय पर कंपनी द्वारा स्थापित कन्वर्ज़न दर पर ट्रांसफर राशि को ट्रांसफर मुद्रा में तबदील करना चाहिए।
6.4. वह मुद्रा जिसमें कंपनी ग्राहक के बाहरी खाते में ट्रांसफर करेगी, ग्राहक के डैशबोर्ड में निर्धारित की जाएगी, ग्राहक के खाते और डेबिट ढंग पर निर्भर करते हुए।
6.5. कंपनी कन्वर्ज़न दर, कमीशन की राशि, और पैसों को डेबिट करने के प्रत्येक ढंग के खर्चों को निर्धारित करती है और किसी भी समय अपनी इच्छा अनुसार इन्हें बदल सकती है। कन्वर्ज़न दर किसी सरकार की अधिकृत अधिकारियों द्वारा स्थापित मुद्राओं के विनियम दर से और संगत मुद्राओं के एक्सचेंज दर के बाज़ार स्तर से अलग हो सकती है। भुगतान सेवा प्रदाताओं द्वारा स्थापित मामलों में, पैसों को ग्राहक के बाहरी खाते में उस मुद्रा में क्रेडिट किया जा सकता है, जो कि ग्राहक के बाहरी खाते की मुद्रा से अलग होगी।
6.6. कंपनी के पास डेबिट की जाने वाली विधि पर निर्भर करते हुए निकासी किए जाने, डिफरेंशिएट किए जाने वाले पैसों की न्यूनतम और अधिकतम राशियों पर प्रतिबंध लगाने का अधिकार आरक्षित है। यह प्रतिबंध ग्राहक के डैशबोर्ड पर दिखाए जाते हैं जब ग्राहक निकासी का अनुरोध जमा करता है।
6.7. किसी ऑर्डर को कंपनी द्वारा स्वीकृत माना जाता है यदि यह ग्राहक के डैशबोर्ड से किया गया हो। इस पैराग्राफ में निर्दिष्ट ढंग के अलावा किसी अन्य ढंग में जमा किए ऑर्डर को निष्पादित करने के लिए कंपनी द्वारा स्वीकार नहीं किया जाएगा।
6.8. ग्राहक के खाते से पैसों की निकासी करने का निर्णय कंपनी द्वारा 5 (पाँच) कार्यशील दिनों के अंदर किया जाता है, सिवाए निम्नलिखित मामलों के:
संचालन इस विनियम में वर्णित संदिग्ध लेन-देनों के अधीन है।
तकनीकी असफलताओं या अन्य परिस्थितियों की उपस्थिति जो कंपनी के त्वरित निर्णय को रोकती हो।
6.9. यदि निकासी अनुरोध के अनुसार कंपनी द्वारा भेजे गए पैसे निर्णय की तिथि के बाद इस विनियम के खंड 6.8 के अधीन ग्राहक के बाहरी खाते में 5 (पाँच) व्यापारिक दिवसों में ट्रांसफर नहीं किए जाते तो, ग्राहक के पास ट्रांसफर की जाँच करने के लिए कंपनी के पास एक अनुरोध का आवेदन करने का अधिकार है।
6.10. यदि खाते के विवरणों में एक निकासी अनुरोध में गलतियाँ पाई गई, जिसके परिणामस्वरूप पैसे ग्राहक के बाहरी खाते में क्रेडिट नहीं किए गए थे, तो समस्या का समाधान करने के लिए कमीशन लागतों का भुगतान ग्राहक द्वारा किया जाएगा।
6.11. ग्राहक द्वारा डिपॉज़िट किए गए पैसों की राशि से अधिक जाता हुआ मुनाफ़ा केवल कंपनी और ग्राहक के बीच सहमत क्रम में ही ग्राहक के बाहरी खाते में ट्रांसफर किया जा सकता है।
6.12. यदि ग्राहक ने ग्राहक के खाते में पैसे किसी निश्चित ढंग में जमा करवाए हैं और पैसों की निकासी की प्रक्रिया इस विनियम के खंड 6.8 द्वारा स्थापित प्रक्रिया से अलग है, तो कंपनी के पास कंपनी द्वारा स्वयं निर्धारित की गई शर्तों के अंदर उसी ढंग में ग्राहक के द्वारा पहले क्रेडिट की गई राशि की निकासी करने का अधिकार है।

7. ग्राहक के खाते से निधियों की निकासी करने के ढंग

7.1. बैंक लेन-देन।
7.1.1. ग्राहक डैशबोर्ड के माध्यम से निकासी अनुरोध भेज सकता है और किसी भी समय बैंक ट्रांसफर के माध्यम से पैसे प्राप्त कर सकती है, यदि कंपनी उस पैसों के ट्रांसफर ढंग के साथ काम करती है।
7.1.2. ग्राहक केवल अपने नाम में खुले बैंक खाते को निकासी का अनुरोध भेज सकता है। कंपनी के पास ग्राहक के पैसों की निकासी के लिए मना करने का अधिकार है यदि अनुरोध इस समझौते और विनियम की शर्तों के उल्लंघन में किया गया था। कंपनी के पास स्वयं समझौते को रद्द करने और इस तरह के उल्लंघन की पहचान करने की घटना में ग्राहक को आगे सेवाएँ देना जारी रखने से इनकार करने का भी अधिकार होता है।
7.1.3. यदि इस विनियम के खंड 7.1.2 की शर्तें पूर्ण होती हैं, तो कंपनी को ग्राहक के बैंक खाते में पैसे निकासी अनुरोध में निर्दिष्ट बैंक जानकारी के अनुसार भेजने चाहिए। कंपनी इस प्रकार मान लेती है कि खाता ग्राहक का है।
7.1.4. ग्राहक यह समझता है और सहमत होता है कि कंपनी बैंक ट्रांसफर में लगने वाले समय के लिए ज़िम्मेदार नहीं है।
7.2. इलेक्ट्रॉनिक ट्रांसफर।
7.2.1. ग्राहक डैशबोर्ड के माध्यम से निकासी अनुरोध भेज सकता है और किसी भी समय इलेक्ट्रॉनिक ट्रांसफर के माध्यम से पैसे प्राप्त कर सकता है, यदि अनुरोध जमा करने के समय पर कंपनी पैसों के ट्रांसफर ढंग के साथ काम करती है।
7.2.2. ग्राहक केवल अपने व्यक्तिगत इलेक्ट्रॉनिक खाते में निकासी अनुरोध जमा कर सकता है। कंपनी के पास ग्राहक के पैसों की निकासी के लिए मना करने का अधिकार है यदि अनुरोध इस समझौते और विनियम की शर्तों के उल्लंघन में किया गया था। कंपनी के पास स्वयं समझौते को रद्द करने और इस तरह के उल्लंघन की पहचान करने की घटना में ग्राहक को आगे सेवाएँ देना जारी रखने से इनकार करने का भी अधिकार होता है। और साथ ही, कंपनी मान लेती है कि इलेक्ट्रॉनिक खाता ग्राहक का है।
7.2.3. यदि इस विनियम के खंड 7.2.2 की शर्तें पूर्ण होती हैं, तो कंपनी को ग्राहक के बैंक खाते में पैसे निकासी अनुरोध में निर्दिष्ट इलेक्ट्रॉनिक जानकारी के अनुसार भेजने चाहिए।
7.2.4. ग्राहक यह समझता है और सहमत होता है कि कंपनी इलेक्ट्रॉनिक ट्रांसफर में लगने वाले समय के लिए ज़िम्मेदार नहीं है और ना ही तकनीकी असफलता का कारण बनने वाली स्थितियों के लिए ज़िम्मेदार है, यदि वह कंपनी की गलती नहीं थी।
7.3. प्रोसेसिंग केंद्र के माध्यम से बैंक कार्ड का ट्रांसफर।
7.3.1. ग्राहक डैशबोर्ड के माध्यम से निकासी अनुरोध भेज सकता है और किसी भी समय प्रोसेसिंग केंद्र के माध्यम से अपने बैंक कार्ड में ट्रांसफर के माध्यम से पैसे प्राप्त कर सकता है, यदि ट्रांसफर के समय, कंपनी उस फंड ट्रांसफर ढंग के साथ काम करती है।
7.3.2. ग्राहक केवल डैशबोर्ड में निर्दिष्ट अंतर्राष्ट्रीय भुगतान प्रणाली के बैंक कार्ड में पैसों का निकासी अनुरोध भेज सकता है।
7.3.3. ग्राहक केवल अपने नाम में पंजीकृत बैंक कार्ड को निकासी का अनुरोध भेज सकता है। कंपनी के पास ग्राहक के पैसों की निकासी के लिए मना करने का अधिकार है यदि अनुरोध इस समझौते और विनियम की शर्तों के उल्लंघन में किया गया था। कंपनी के पास स्वयं समझौते को रद्द करने और इस तरह के उल्लंघन की पहचान करने की घटना में ग्राहक को आगे सेवाएँ देना जारी रखने से इनकार करने का भी अधिकार होता है।
7.3.4. ग्राहक यह समझता है और सहमत होता है कि कंपनी ट्रांसफर में लगने वाले समय के लिए ज़िम्मेदार नहीं है और ना ही तकनीकी असफलता का कारण बनने वाली स्थितियों के लिए ज़िम्मेदार है, यदि वह कंपनी की गलती नहीं थी, बल्कि अंतर्राष्ट्रीय भुगतान प्रणाली के प्रोसेसिंग केंद्र की गलती थी।
7.4. अपनी इच्छा अनुसार, कंपनी ग्राहक को ग्राहक के खाते से पैसे निकालने के अन्य ढंग पेश कर सकती है। यह जानकारी डैशबोर्ड में दी गई होती है।

8. 1-क्लिक सेवा की शर्तें

8.1. बैंक (भुगतान) कार्ड की जानकारी के साथ भुगतान का फॉर्म भरते हुए, चेक-बॉक्स "कार्ड को सहेजें" की जाँच करते हुए (सही का निशान लगाते हुए), और भुगतान पुष्टिकरण बटन पर क्लिक करते हुए, ग्राहक 1-क्लिक सेवा (बार-बार होने वाले भुगतानों) के नियमों के लिए अपनी पूर्ण सहमती देता है और भुगतान सेवा प्रदाता को कंपनी में ग्राहक के खाता बैलेंस को दुबारा भरने के लिए 1-क्लिक सेवा द्वारा प्रदान की गई तिथि तक बैंक (भुगतान) कार्ड डेटा दुबारा भरने के बिना कंपनी में ग्राहक के खाता बैलेंस को दुबारा भरने के लिए ग्राहक द्वारा निर्धारित किए गए पैसों को ग्राहक के अनुरोध पर ग्राहक के बैंक (भुगतान) से डेबिट करने के लिए, स्वचालित ढंग से बिना किसी अधिकरण के अधिकार देता है।
8.2. ग्राहक स्वीकार करता है और सहमत होता है कि 1-क्लिक सेवा के उपयोग का पुष्टिकरण ग्राहक को ग्राहक के ई-मेल पते पर 2 (दो) व्यापारिक दिवसों के अंदर प्रदान किया जाएगा।
8.3. 1-क्लिक सेवा का उपयोग करते हुए, ग्राहक पुष्टि करता है कि वह बैंक कार्ड का स्वामी (अधिकृत उपयोगकर्ता) है, जिसकी जानकारी का उपयोग 1-क्लिक सेवा प्रदान करने के लिए की जाती है और यह इस बात की पुष्टि भी करता है कि ग्राहक कंपनी में ग्राहक के खाता बैलेंस को दुबारा भरने के लिए कंपनी के पक्ष में बैंक कार्ड से किए भुगतानों को चुनौती देने के लिए कार्यवाई नहीं करेगा।
8.4. 1-क्लिक सेवा का उपयोग करते हुए, ग्राहक इस सेवा के साथ संबंधित सभी खर्चों और सभी प्रकार के करों, शुल्कों, इत्यादि के सहित सभी अतिरिक्त खर्चों (यदि आवश्यक हों) को उठाने के लिए सहमत होता है।
8.5. ग्राहक कंपनी में ग्राहक के खाता बैलेंस को दुबारा भरने के लिए ग्राहक द्वारा किए गए सभी भुगतानों के लिए पूर्ण ज़िम्मेदारी उठाता है। कंपनी और/या भुगतान प्रणाली सेवा प्रदाता केवल ग्राहक द्वारा बताई गई राशि में भुगतान प्रदान करता है और ग्राहक द्वारा ऊपर बताई गई अतिरिक्त राशियों के भुगतान के लिए ज़िम्मेदार नहीं है।
8.6. भुगतान पुष्टिकरण बटन पर क्लिक करने के बाद, भुगतान को कर लिया गया समझा जाता है और इसे उलटाया नहीं जा सकता। भुगतान पुष्टिकरण बटन पर क्लिक करते हुए, ग्राहक सहमत होता है कि वह भुगतान को रद्द नहीं कर पाएगा या मांग नहीं कर पाएगा कि इसे रद्द किया जाए। भुगतान फॉर्म भर के, ग्राहक पुष्टि करता है कि वह किसी भी देश के वर्तमान कानून का उल्लंघन नहीं कर रहा है। भुगतान फॉर्म को भर के और इस भाग की शर्तों को स्वीकार करके, ग्राहक, इस बैंक (भुगतान) कार्ड के स्वामी के रूप में, पुष्टि करता है कि उसके पास कंपनी द्वारा पेश की गई सेवाओं का उपयोग करने का अधिकार है।
8.7. वेबसाइट और/या ट्रेडिंग टर्मिनल का उपयोग करना शुरु करके, ग्राहक ऐसे किसी भी देश के कानून के साथ अनुपालन करने की ज़िम्मेदारी मानता है जहाँ वेबसाइट और/या ट्रेडिंग टर्मिनल का उपयोग किया जाता है, और ग्राहक पुष्टि करता है कि वह उस प्रौढ़ता की आयु तक पहुँच गया है या उसे पार कर गया है जिसी उस अधिकार-क्षेत्र में कानूनी रूप से आज्ञा है जहाँ वेबसाइट का उपयोग किया जाता है। ग्राहक पुष्टि करता है कि भुगतान सेवा प्रदाता इस वेबसाइट और/या ट्रेडिंग टर्मिनल के उपयोग के संबंध में प्रतिबंधों के ग़ैर-कानूनी या अनाधिकृत उल्लंघन के लिए ज़िम्मेदार नहीं है। इस वेबसाइट और/या ट्रेडिंग टर्मिनल की सेवाओं का उपयोग करने के लिए सहमत होते हुए, ग्राहक पुष्टि करता है कि कोई भी भुगतान भुगतान सेवा प्रदाता द्वारा संसाधित किया जाता है और डेबिट की गई राशियों और/या उत्पादों या अन्य भुगतान रद्द करने के विकल्पों की वापसी का कोई भी कानूनी अधिकार नहीं है। यदि ग्राहक पैसों को ग्राहक के खाते से डेबिट करना चाहता है, तो वह ट्रेडिंग टर्मिनल का उपयोग कर सकता है।
8.8. ग्राहक पुष्टि करता है कि 1-क्लिक सेवा ग्राहक के द्वारा रद्द किए जाने तक प्रभावकारी रहेगी। यदि ग्राहक 1-क्लिक सेवा को रद्द करना चाहता है, तो ग्राहक के पास ग्राहक के सहेजे गए कार्डों की सूची में से बैंक (भुगतान) कार्ड डेटा को मिटाकर डैशबोर्ड के माध्यम से इस सेवा को रद्द करने का अधिकार है।
8.9. भुगतान सेवा प्रदाता ग्राहक के भुगतान कार्ड के लिए जानकारी को संसाधित करने की मनाही/अयोग्यता के लिए ज़िम्मेदार नहीं है, या बैंक (भुगतान) कार्ड जारी करने वाले बैंक से ग्राहक का बैंक (भुगतान) कार्ड का उपयोग करते हुए भुगतान करने की इजाज़त प्राप्त करने की असफलता के साथ संबंधित मनाही के लिए ज़िम्मेदार नहीं है। भुगतान सेवा प्रदाता वेबसाइट पर कंपनी द्वारा पेशकश की गई सेवाओं की गुणवत्ता या दायरे के लिए ज़िम्मेदार नहीं है। ग्राहक के खाते पर डिपॉज़िट करते समय कंपनी द्वारा स्थापित नियमों और आवश्यकताओं के साथ अनुपालन करने के लिए ग्राहक बाध्य है। भुगतान सेवा प्रदाता केवल भुगतान करता है और किसी भी मूल्य, आम मूल्यों, और/या कुल राशियों के लिए ज़िम्मेदार नहीं है।
8.10. ग्राहक को कंपनी की वेबसाइट पर पोस्ट की गई 1-क्लिक सेवा के नियमों और शर्तों को स्वतंत्र रूप से पुन:देखना चहिए और अपडेट करना चाहिए।
8.11. ग्राहक सहमत होता है कि पक्षों के बीच जानकारी का आदान-प्रदान डैशबोर्ड के माध्यम से होता है। विशेष स्थितियों में, ईमेल संचार का ढंग उपयोग किया जा सकता है: help@olymptrade.com
8.12. यदि वह इन शर्तों के साथ सहमत नहीं होता, तो ग्राहक भुगतान को तुरंत रद्द करने के लिए बाध्य है, और आवश्यकता होने पर कंपनी के साथ संपर्क करने के लिए।